Corona पर 11 कड़वे सवाल। क्या लगता है चीन को इसके जबाब देने चाहिए के नहीं ।

1) जहा पूरी दुनिया प्रभावित है ,वहीं चीन राजधानी कैसे बची रह गई ?वुहान के अलावा चिन मे कहीं नहीं फैला क्यों?

2 ) कोरोना को सामने लाने वाले डॉक्टर और पत्रकार को बोलने से क्यों रोका गया ?

3 ) कोरोना मानव से मानव में फैलता है, इसे छुपाने के लिए WHO के कम्युनिस्ट निदेशक का उपयोग क्यों किया गया?

4 ) WHO के निदेशक जनवरी में “बीझिंग (चीन)” में क्या कर रहे थे .क्या वो प्लान फिक्सिंग कर रहे थे?

5 ) “किसी भी अंतरराष्ट्रीय उड़ान के लिए कोई गाइडलाइन जारी करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि यह मानव से मानव में नहीं फैलता है” ….ऐसा ट्वीट 11 जनवरी तक WHO क्यों करता रहा ?

बिना मेडिकल जांच किए वुहान से एक साथ 50,00,000 लोगों को “दुनिया के अलग-अलग हिस्से में” क्यों भेजा गया ..???

6 ) इटली में 6 फरवरी तक मामूली केस था। फिर ‘हम चीनी हैं वायरस नहीं, हमें गले लगाइए।’ प्लेकार्ड के साथ दुनिया के पर्यटन स्थल ‘सिटी ऑफ लव’ के नाम से मशहूर इटली के लोगों को गले लगाने क्यों पहुंचे ?

7 ) दुनिया में बड़े – बड़े लोगों को कोरोना हो चुका है, हॉलीवुड – स्टार, ऑस्ट्रेलिया के गृह – मंत्री, ब्रिटेन के स्वास्थ्य – मंत्री, स्पेन के प्रधानमत्री की पत्नी और अब तो ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स को भी कोरोना हो चुका है, परन्तु चीन में एक भी नेता, एक भी मिलिट्री – कमान्डर को कोरोना ने टच भी नहीं किया है … ! क्यों … ?

8 )आज पेरिस , न्यू यॉर्क , बर्लिन, रोम , दिल्ली , मुंबई , टोक्यो , दुनिया के प्रमुख आर्थिक और राजनीतिक केंद्र बन्द हैं . परन्तु बीजिंग और शंघाई खुले हुऐ हैं, वहाँ कोरोना ने कोई असर ही नहीं दिखाया !

9 )शंघाई वो शहर है जो चीन की इकॉनमी को चलाता है, ये चीन की आर्थिक – राजधानी है, यहाँ चीन के सभी अमीर लोग रहते हैं ! इंडस्ट्री को चलाने वाले रहते है, यहाँ भी कोई लॉक – डाउन नहीं,

10 ) क्या कोरोना एक पाला हुआ वायरस है, जिसे बता दिया गया है की तुम्हें दुनिया – भर में आतंक मचाना है, पर तुम बीजिंग और शंघाई नहीं आओगे, चीन से ये सवाल पूछा जाना बहुत जरुरी है

11 ) दुनिया – भर का शेयर – मार्किट लगभग आधा गिर चुका हैं ! भारत में भी निफ्टी 12 हज़ार से 7 हज़ार तक पहुँच गया है ! परन्तु चीन का शेयर – मार्किट 3 हज़ार पर था जो 2700 पर ही है ! चीन के मार्केट पर भी इस वायरस का कोई असर नहीं है ..

ये सारा खेल शुरू हुआ चीन से। चीन हमेशा से अपने आपको छिपाता आया है पूरी दुनिया से। अपने देशमे ऐसी कोई भी चीज उसे नहीं करने देता जिससे उनकी इनफार्मेशन किसी और तक पोहचे।

जैसे की google ,facebook ,youtube ,gmail ,whats app,twitter इन मेसे किसी को यूज़ नहीं होने देता चाइना अपने देश में। oppo और vivo को इंडिया में लॉन्च करनेवाला चीन है। लेकिन आज तक कोई भी इंडिया का फ़ोन चाइना में लॉन्च नहीं हुआ है।

वो देश जो पुरे तरीके से सीक्रेट है। उसने जनवरी महीने में। पुरे अच्छे तरीके से विडिओ फुटेज बनाके पूरी दुनिया को कोरोना वायरस के बारेमे बतया। जो देश अपने आपको हमेशासे छिपा के रखने वाला अचानक से विडिओ शौकेश करने का क्या मतलब। जहा पे इनकी न्यूज़ पेपर तक chines में होती है वो अचानक से HD विडिओ प्रदर्शन कर रहे है

ये विडिओ शोकेस करने के पीछे चाइना का आपने ही मतलब छिपा है।
अब अचानक चाइना में कोरोना के मरीज ठीक होरहे है। अपने अपने काम पर जा रहे है। एकदम से चाइना ने ऐसा क्या करदिया ?

एक पत्रकार ने बतया के पहले चीन ने सबसे पहले कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाई , बचाव के कुछ सामान बनाए , like मास्क सेनिटाइज़र etc और उसके बाद पूरी दुनिया में इसको फैला दिया।

कोरोना वायरस की वैक्सीन को तब तक अपने फ्रीज़ में रखा जब तक पूरी दुनिया की economy crash नहीं हुइ। चीन पूरी दुनिया के इन्वेस्टर का हब बनगया था। सब से पहले कोरोना वायरस को वुहान सहर में छोड़ा। उसके बाद जबरजस्त मौतों के बाद सरे इन्वेस्टर्स अपने शेयर सस्ते दमामे बेच के वह से भाग गए। बिदेशी इन्वेस्टर्स अपनी पूंजी चोर्ड के भाग गए।

बाद में अपने बनाएगए वैक्सीन से अपने नागरिको को ठीक करलिया और। मरने वालो की संख्या को भी रोक दिया।
ऐसेमे भले ही चीन ने अपने कुछ नागरिको को खोया लेकि पूरी दुनिया की economy को लूट के रखलिया। आज ये वायरस पूरी दुनिया में काल मचा रहा है।

सोचने की बात तो ये है के। आज उनसभी देशोंकी कमर टूट गई है। जहा चीनी खर्च करते थे।

जहा पूरी दुनिया अपनी economy अपने आखो के सामने गिरती हुई देख रही है। वही मार्च से चाइना की economy में काफी सुधार आया है।

इस आर्थिक युद्ध को चीन ने जित लिया है. बिना लडे ही ।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *